THN Network (Delhi / NCR Desk): 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के आपत्तजिनक पोस्टर लगाने के मामले में दिल्ली पुलिस ने 100 प्राथमिकी दर्ज की है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, इन पोस्टरों पर लिखा था, "मोदी हटाओ-देश बचाओ." दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी दीपेंद्र पाठक ने बताया कि पूरे शहर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्टर लगाए गए, जिसको लेकर अब तेजी से कार्रवाई की जा रही है. उन्होंने बताया कि इन (आपत्तिजनक) पोस्टरों में प्रिंटिंस प्रेस की जानकारी नहीं है. स्पेशल सीपी दीपेंद्र पाठक ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा कि अब तक 6 लोगों की गिरफ्तार किया जा चुका है. बता दें कि इन पोस्टरों का लिंक आम आदमी पार्टी से जुड़ा हुआ है. दीपेंद्र पाठक ने बताया कि आम आदमी पार्टी के कार्यालय से निकलते ही वैन को पुलिस ने रोका था, जिसमें से कई पोस्टर जब्त किए गए और मौके पर कुछ गिरफ्तारियां भी की गईं. उन्होंने कहा कि प्रिटिंग प्रेस अधिनियम और संपत्ति विरूपण अधिनियम की धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है.

पूरे शहर से हटाए गए हजारों पोस्टर

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, पूरे दिल्ली शहर से करीब 2000 पोस्टरों को हटाया गया है. स्पेशल सीपी दीपेंद्र पाठक ने बताया कि 'आप' कार्यालय से निकलते हुए जिस वैन को रोका गया उससे एक शख्स को गिरफ्तार किया गया, जिसने बताया कि उसके मालिक ने उसे यहां पर पोस्टरों की डिलीवरी के लिए कहा था. दीपेंद्र पाठक ने कहा कि उसने एक दिन पहले भी पोस्टरों की डिलीवरी की थी.

इतने पोस्टरों का दिया था ऑर्डर

पुलिस के मुताबिक, दो प्रिंटिंग प्रेस फर्मों को 50-50 हजार पोस्टर बनाने का ऑर्डर दिया गया था और कंपनियों से जुड़े कर्मचारियों ने रविवार देर रात से सोमवार सुबह तक पोस्टरों को अलग-अलग इलाकों में लगाया. अपने प्रिंटिंग प्रेस का नाम पोस्टरों पर प्रकाशित नहीं करने के आरोप में मालिकों को गिरफ्तार किया गया है.

डीसीपी (नॉर्थवेस्ट) जितेंद्र मीणा ने जिले में 20 प्राथमिकी दर्ज होने की पुष्टि की और कहा कि उन्होंने अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं की है. एक अधिकारी ने कहा, "ज्यादातर प्राथमिकी सार्वजनिक संपत्ति विरूपण अधिनियम और प्रेस और पुस्तक पंजीकरण अधिनियम के तहत दर्ज की गईं."