THN Network (Delhi / NCR Desk): 


दिल्ली सरकार बुधवार को दिल्ली विधानसभा में राज्य का 9वां बजट पेश कर रही है। गृह मंत्रालय ने मंगलवार को दिल्ली सरकार के बजट को मंजूरी दे दी थी।

वित्त मंत्री कैलाश गहलोत ने स्पीच की शुरुआत में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को भगवान राम बताया। उन्होंने कहा, "मनीष सिसोदिया बजट पेश करते तो ज्यादा खुशी होती। जब भगवान श्री राम वनवास गए थे, तब भरत ने सिंहासन पर उनकी खड़ाऊ रखकर राज किया था। वैसे ही मैं काम करूंगा। अगला बजट मनीष सिसोदिया ही पेश करेंगे।"

8 साल में दिल्ली की सूरत बदली, बिचौलिया राज खत्म किया- वित्त मंत्री

कैलाश गहलोत ने कहा, '8 साल में हमने दिल्ली का चेहरा बदला है। इस दौरान 28 फ्लाई ओवर बनाए हैं और बिचौलिया राज खत्म किया है। दिल्ली में मेट्रो नेटवर्क को दोगुना किया है।193 किलोमीटर नेटवर्क बढ़ा। ये बजट दिल्ली के लिए जरूरी है, क्योंकि हम जी-20 की मेजबानी कर रहे हैं। ये बजट साफ, सुंदर और मॉडर्न दिल्ली के लिए डेडिकेटेड है।'

एजुकेशन सेक्टर को मिले 16 हजार करोड़

एजुकेशन सेक्टर के लिए बजट में 16,575 करोड़ रुपए दिए गए हैं। सरकारी स्कूलों और टीचर्स को नए टैबलेट दिए जाएंगे। हर सरकारी स्कूल को 20 नए कम्प्यूटर दिए जाएंगे। स्कूलों में अब फ्रैंच, जर्मन, जापानी और स्पेनिश भाषा भी पढ़ाई जाएगी।

इस साल मिलेंगी 16 सौ इलेक्ट्रिक बसें

पब्लिक ट्रांसपोर्ट को अपग्रेड करने के लिए 35 सौ करोड़ रुपए दिए गए हैं। इस साल के अंत तक 1600 इलेक्ट्रिक बसें दिल्ली को मिलेंगी। 2025 तक सिटी ट्रांसपोर्ट में 10 हजार से ज्यादा बसें होंगी। इनमें से 80% बसें इलेक्ट्रिक होंगी।

मौजूदा 57 बस डिपो का भी इलेक्ट्रिफिकेशन किया जाएगा। 3 ISBT, 2 मल्टी-लेवल बस डिपो और 9 नए बस डिपो बनाए जाएंगे। दिल्ली में 2180 इलेक्ट्रिक मोहल्ला बसें चलाई जाएंगी। ये दूर-दराज के इलाकों को ट्रांसपोर्ट सिस्टम से जोड़ेंगी।

100 महिला मोहल्ला क्लिनिक खोले जाएंगे

सौ नए महिला मोहल्ला क्लिनिक खोले जाएंगे। फ्री में होने वाले मेडिकल टेस्ट की संख्या 200 से बढ़ाकर 450 कर दी गई है। 9 नए हॉस्पिटल बनाए जा रहे हैं, जिनमें से 4 इसी साल चालू हो जाएंगे। हॉस्पिटल में बेड की संख्या 14 हजार से बढ़कर 30 हजार हो जाएगी।

हेल्थ के लिए 9,742 करोड़ रुपए बजट में दिए गए हैं।

2 साल में साफ होंगे कूड़े के तीनों पहाड़

2 साल के भीतर दिल्ली के तीनों कूड़े के पहाड़ साफ कर दिए जाएंगे। दिसंबर 2023 तक ओखला डंपिंग यार्ड, मार्च 2024 तक भलस्वा डंपिंग यार्ड और दिसंबर 2024 तक गाजीपुर डंपिंग यार्ड साफ हो जाएगा। इसके लिए MCD को 850 करोड़ रुपए का लोन दिया जाएगा।

बजट के अन्य अपडेट्स...

स्थानीय निकायों को 8,241 करोड़ रुपए की आर्थिक मदद दी जाएगी।

इस साल 26 नए फ्लाई ओवर, अंडर पास और ब्रिज बनाएंगे। इसके लिए 722 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। 14 सौ किमी लंबी सड़कों को सुंदर बनाया जाएगा। इसपर 2 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे।

यमुना साफ करने के लिए सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट्स की क्षमता बढ़ाई जाएगी। सभी कॉलोनियों को सीवर नेटवर्क से जोड़ा जाएगा। इसके लिए 6-पॉइंट प्लान बनाया गया है।

दिल्ली में प्रति व्यक्ति आय 14% बढ़ी है। 2021-22 में प्रति व्यक्ति आय 3 लाख 91 हजार थी जो 2022-23 में बढ़कर 4,44,768 हो गई।