THN Network



NEW DELHI: दशहरा के मौके पर दिल्ली भर में आयोजित होने वाली रामलीलाओं का मंचन करने वाली समितियां भूमि-पूजन के साथ इसकी तैयारियों में जुट गई है. कल रविवार के दिन दिल्ली में लगभग 500 समितियों ने रामलीला के आयोजन के लिए भूमि पूजन कर इसकी तैयारियों की शुरुआत की. ज्यादातर रामलीलाओं का मंचन 15 अक्टूबर से शुरू होगा. बता दें कि कई दशकों से दिल्ली में रामलीला के आयोजन का इतिहास रहा है, इनमें से कुछ तो इतने प्रसिद्ध हो चुके हैं कि इसका मंचन देखने दिल्ली ही नहीं बल्कि आसपास के राज्यों से भी लोग पहुंचते हैं. वहीं देश की कई हस्तियों में भी इन आयोजनों में शिरकत किया है. 

भूमि-पूजन से हुई भव्य तैयारियों की शुरुआत

बात करें रामलीला के मंचन की तो यह समय के साथ अधिक भव्य और आधुनिक तकनीक की सहायता से और भी शानदार तरीके से आयोजित किया जाने लगा है. जिसके लिए कलाकार तो तैयारी करते हैं ही, साथ ही टेक्निकल टीम भी दृश्यों को लाईट और साउंड के साथ प्रभावी बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ती है. शायद यही वजह है कि दिल्ली का रामलीला दिन पर दिन और बड़ा और मशहूर होता जा रहा है और इस स्तर और प्रसिद्धि को बरकरार रखने के लिए रामलीला आयोजक कमिटी समय रहते तैयारियों में जुट कर भव्य आयोजन करने के लिए भूमि पूजा से इसकी शुरुआत कर चुकी है.

रामलीला मैदान में दिखेगी चंद्रायन एवं G20 की झलक

कल दिल्ली भर में 500 रामलीला कमेटियों ने इस आयोजन के लिये भूमि पूजा की, जिनमें रामलीला मैदान, रामलीला कमिटी, श्री धार्मिक लीला कमेटी, माधवदास पार्क, इंद्रप्रस्थ रामलीला कमेटी, द्वारका, कश्मीरी गेट और लाल किला ग्राउंड में आयोजित होने वाला लव कुश रामलीला प्रमुख और काफी प्रसिद्ध हैं. सिविक सेंटर के सामने स्थित रामलीला ग्राउंड में विधि-विधान से भूमि-पूजन कर इसकी तैयारियों की शुरुआत की गई. इस मौके पर कमेटी के चेयरमैन अजय अग्रवाल ने बताया कि इस बार लीला अनुष्ठान में चंद्रायन एवं G20 की झलकियां खास होगी. भूमि पूजन में मुख्य अतिथि के रूप में महापौर डॉ. शैली ओबेरॉय, पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन आदि शामिल हुए थे. लीला का मंचन 15 अक्टूबर से शुरू होगा.

लव कुश रामलीला में दिखेगी काशी के विश्वनाथ की थीम

वहीं, लाल किला ग्राउंड में लव कुश रामलीला के मंचन के लिए भी कल भूमि पूजन किया गया. जिसमें केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, भाजपा के प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन आदि शामिल हुए. इस मौके पर कमेटी के प्रेसिडेंट अर्जुन कुमार ने बताया कि इस बार लीला काशी के विश्वनाथ मंदिर की थीम पर तीन मंजिला मंच पर होगा.