THN Network 


MAHARASHTRA:
महाराष्ट्र में राजनीतिक दल शिवसेना को टूटे पूरा एक साल हो गया है. आज से ठीक एक साल पहले यानी 20 जून 2022 को उद्धव ठाकरे से बगावत कर एकनाथ शिंदे अलग हो गए थे. शिंदे के साथ कई नेताओं ने भी पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. इसके एक साल होने पर संजय राउत ने 20 जून को विश्व गद्दार दिवस घोषित करने की मांग की है.


राउत ने संयुक्त राष्ट्र संघ को एक लेटर लिखने की भी घोषणा ​की है. ऐसे में शहर में राजनीतिक माहौल को देखते हुए मुंबई पुलिस अलर्ट पर है. मुंबई पुलिस अलर्ट पर है क्योंकि ऐसी संभावना है कि कुछ राजनीतिक समूहों 'गद्दार दिवस' मना सकते हैं.

संवेदनशील जगहों पर बढ़ा दी है सुरक्षा

मुंबई पुलिस ने कई संवेदनशील जगहों पर सुरक्षा बढ़ा दी है. पुलिस ने आज सुबह सात से आठ बजे से बंदोबस्त सख्त ​कर दिए है. इसके साथ ही मुंबई पुलिस इस बात का पूरा ध्यान रख रही है कि कानून व्यवस्था की कोई समस्या उत्पन्न न हो. मुंबई पुलिस ने कहीं भी गद्दार दिवस को लेकर धरना व आंदोलन न हो इसके लिए पहले ही जानकारी जुटाने का काम शुरू कर दिया था और निवारक कार्रवाई भी की गई है. इसी वजह से कुछ राजनीतिक कार्यकर्ताओं को मुंबई पुलिस ने एहतियात के तौर पर नोटिस जारी किया है.

शिवसेना UBT के कार्यालयों के बाहर मुंबई पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. एकनाथ शिंदे ने पार्टी से बगावत कर बीजेपी से हाथ मिला लिया था. इसके बाद फिर उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था और महाराष्ट्र में एक बार फिर नई सरकार का चयन हुआ था. तब एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी.