THN Network 



NEW DELHI: दिल्ली में बाढ़ दिल्ली में ​बाढ़ से बिगड़े हालात के बीच सीएम अर​विंद केजरीवाल ने आईटीओ बैराज से संबंधित समस्या का समाधान न निकलने के बाद कहा कि हमने इससे पार पाने के लिए आर्मी से मदद मांगी है. आईटीओ बैराज की समस्या और बाढ़ की वजह से उत्पन्न हालात को लेकर मीडिया से बाचतीत में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवालने कहा कि अलग-अलग कारणों से अलग-अलग इलाकों में पानी घुस गया. आईटीओ पर नाली नियामक के टूटने के कारण पानी आ गया. वहीं राजघाट पर नाले से पानी के बैकफ्लो के कारण और कई अन्य स्थानों पर ओवरफ्लो के कारण यमुना नदी का पानी आवासी इलाकों में फैला. कई जगहों पर यमुना का पानी ओवरफ्लो होने के कारण आवासीय व अन्य इलाकों में घुसा है. 

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अब यमुना पानी से दिल्ली वालों को राहत मिलने की संभावना है. उन्होंने कहा कि लोगों को जल्द ही राहत मिलनी शुरू हो जाएगी, पानी धीरे-धीरे कम हो रहा है. कल यमुना का जल स्तर 208.66 तक पहुंच गया था. वहां से यमुना का पानी 208.38 तक आ गया है. अब धीरे-धीरे पानी जैसे जैसे नीचे आता जाएगा लोगों को उसी हिसाब से राहत मिलेगी. बाढ़ से प्रभावित इलाके में खतरे को लेकर मुनादी कराए जा रहे हैं. लोगों को खतरे की जानकारी देने का काम जारी है. 

हमारी टीमें पूरी रात आईटीओ बैराज पर करती रही काम

दिल्ली के सीएम ने ये भी कहा कि आईटीओ बैराज पर पूरी रात हमारी टीमें WHO बिल्डिंग के पास ड्रेन नंबर 12 के रेगुलेटर की क्षति को ठीक करने के काम में लगी रही. फिर भी इस दरार से होकर यमुना का पानी शहर में प्रवेश कर रहा है। सरकार ने मुख्य सचिव को इसे सर्वोच्च प्राथमिकता पर लेने का निर्देश दिया है। साथ ही ये भी कहा है कि वो लोगों को ज्यादा से ज्यादा और कम समय में समस्या से राहत प्रदान करने के लिए सेना और एनडीआरएफ की मदद लेने का भी निर्देश दिया है. सीएम ने अधिकारियों से कहा कि इसे तत्काल ठीक करने की जरूरत है.