THN Network 



अंतरराष्ट्रीय योग दिवस  (International Yoga Day) को लेकर जहां भारत से लेकर अमेरिका तक में तैयारियां जोरों पर है. वहीं राजधानी दिल्ली में योग दिवस से ठीक पहले दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) की प्रतिक्रिया आई है. अरविंद केजरीवाल ने बिना नाम लिए बीजेपी (BJP) पर आरोप लगाते हुए कहा कि इसने दिल्ली में फ्री योग क्लास बंद करवा दी जिससे कई लोग दुखी हैं. इससे किसे फायदा हुआ? सीएम केजरीवाल ने ट्वीट किया, "कल अंतरराष्ट्रीय योग दिवस है. यह दिवस हमें योग करने के लिए प्रेरित करता है. 2 वर्ष पहले दिल्ली सरकार ने दिल्ली वालों के लिए फ्री योग क्लासेस शुरू की थी और लगभग 17000 लोग नियमित तौर पर योग करने लगे थे. पिछले वर्ष इन्होंने ( भारतीय जनता पार्टी ) योग क्लासेज को बंद करवा दिया, जिससे काफी लोग दुखी हुए लेकिन इससे इन्हें क्या फायदा हुआ और क्या इस तरह जनहितकारी कार्यक्रम बंद करवाने चाहिए?"

योग क्लासेज बंद करवाने के आरोप को लेकर दिल्ली सीएम ने कहा कि जिस दिन दिल्ली वालों के लिए फिर से फ्री योग क्लासेज शुरू किया जाएगा उस दिन मेरे लिए योग दिवस होगा. इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा, "पर अच्छी नीयत हो तो भगवान भी साथ देते हैं. इन्होंने हमें दिल्ली में रोका, हमने पंजाब में फ्री योग क्लासेज़ शुरू कर दीं. मुझे ख़ुशी है पंजाब में इसे लोगों का ज़बर्दस्त समर्थन मिल रहा है."भारतीय जनता पार्टी ने किया पलटवार
वहीं दिल्ली सीएम के इस बयान पर भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता खेमचंद शर्मा ने पलटवार करते हुए एबीपी लाइव से कहा, "हर ऐसे शुभ मौके पर आम आदमी पार्टी द्वारा ऐसा बयान दिया जाता है फिर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर भला ऐसा क्यों नहीं कहा जाएगा. यह संपूर्ण विश्व के साथ-साथ भारत के गौरव का भी पल है. इस मौके पर ऐसा बयान संपूर्ण देश का अपमान है. दिल्ली सरकार को अगर योग सिखाना है तो जरूर सिखाइए यह स्वागत योग्य पहल है लेकिन इससे पहले प्रशासनिक स्वीकृति ले लीजिए. आम आदमी पार्टी अगर सियासत और अराजकता फैलाने के बदले अगर कोई भी काम नियमानुसार करें तो बीजेपी उसका स्वागत करेगी."